बुढ़ापे में गुस्सा करना है खतरनाक, जानें क्यों???

एक स्टडी की रिपोर्ट के अनुसार बुढ़ापे में जो भी व्यक्ति गुस्सा करता है उसके सेहत को गंभीर नुकसान पहुंचता है। बता दें कि इस उम्र में तनाव और उदासी से ज्यादा गुस्सा करने की आदत सेहत को नुकसान पहुंचाती है।

इस खास स्टडी की रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि गुस्सा करने से वृद्ध लोगों के शरीर में सूजन आने लगती है, जिससे हमारे दिल की बीमारी, आर्थराइटिस और कैंसर जैसी घातक बीमारी का खतरा बहुत बढ़ जाता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह स्टडी साइकोलॉजी एंड एजिंग जर्नल में प्रकाशित की गई है। इस स्टडी के लिए शोधकर्ताओं ने 59 की उम्र से 93 उम्र वाले करीब 226 लोगों के डेटा की जांच की थी, जिसके बाद स्टडी में शामिल सभी लोगों को 2 ग्रुप में बांट दिया गया था। एक ग्रुप में ऐसे लोगों को रखा गया था – जो बुढ़ापे में कदम रख रहे है और वहीं, दूसरे ग्रुप में ज्यादा उम्र वाले लोगों को रखा गया।

इस खास स्टडी में शामिल सभी लोगों से यह पूछा गया कि उनको किस बात पर कितना गुस्सा आता है??? और किस बात से वो उदास हो जाते हैं??? उधर, शोधकर्ताओं ने जांच में यह जानने की कोशिश की कि शरीर को ज्यादा नुकसान गुस्सा करने से पहुंचता है या फिर उदास रहने से।

यही नहीं, जिस स्टडी की हम बात कर रहे हैं उसके सह-लेखक Carsten Wrosch का कहना है कि – “हमने पाया कि 80 साल या इससे ज्यादा उम्र के लोगों के नियमित तौर पर गुस्सा करने से उनके शरीर में अधिक सूजन (Swelling) के साथ कई गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है लेकिन मध्य वर्ग (Middle Age) के लोगों में ऐसा नहीं होता है।”

शोधकर्ताओं की मानें तो एजुकेशन और थेरेपी के जरिए बुढ़े लोग अपनी भावनाओं पर काबू पाकर अपने गुस्से पर नियंत्रण बड़ी आसानी से पा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook8k
Instagram7k