चाय के हैं शौकीन तो खुश हो जाइए!

क्या आप चाय के शौकीन हैं??? अगर हां तो खुश हो जाइए क्योंकि चाय पीने के शौकीन लोगों को अब चाय पीने की एक और वजह मिल गई है। क्यों चौंक गए ना… दरअसल, एक स्टडी में इस बात का दावा किया गया है कि चाय पीने से लोगों की क्रिएटिविटी बढ़ जाती है।

यूं तो चाय के दीवाने चाय पीने का कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहते हैं… जैसे कि गॉसिपिंग हो, कभी काम से ब्रेक लेना हो… चाय पीने वाले तो बस बहाना ढूंढते रहते हैं और वह ना तो दिन देखते हैं ना रात और ऐसे में चाय पीने वाले लोगों को एक और वजह मिल गई है चाय के शौक को बनाए रखने का।

पेर्किंग यूनिवर्सिटी के एक रिसर्च के मुताबिक चाय पीने से लोगों की ध्यान केंद्रित करने की क्षमता पहले से ज्यादा बढ़ जाती है और उनकी क्रिएटिविटी भी बेहतर होती है।

यहां जानें: चाय पीने से फोकस कैसे बढ़ जाता है?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चाय में कैफीन और थियनाइन मौजूद होता है, जो अलर्टनेस बढ़ाने का काम बखूबी करता हैं। वहीं, पेर्किंग यूनिवर्सिटी की स्टडी का यह दावा है कि एक कप चाय पीने के बाद कोई भी दिमाग की चुस्ती महसूस कर सकता है। यही नहीं, मनोवैज्ञानिकों की एक टीम ने 50 स्टूडेंट्स पर एक स्टडी की जिनकी औसतन उम्र 23 साल थी। आधे छात्रों को पीने के लिए पानी दिया गया जबकि आधे छात्रों को ब्लैक टी पीने के लिए दी गई।

दूसरी ओर फूड क्वॉलिटी ऐंड प्रिफरेंस जर्नल में प्रकाशित स्टडी में यह साफ कहा गया है कि दिन में चाय पीने से क्रिएटिविटी का स्तर तेज़ी से बढ़ जाता है। हालांकि, स्टडी में यह कहा गया है कि किसी भी चीज की अधिकता काफी नुकसानदायक होती है और यही बात चाय पर भी लागू होती है।

Facebook8k
Instagram7k