Ramadan Special – सहरी-इफ्तार में खाएं यह चीजें, नहीं होगी पेट में जलन!

ज्यादा तला-गला और साथ ही मसालेदार खाना खाने से आपके पेट में जलन और एसिडिटी की समस्या का होना आम बात ही है। यह हम सभी जानते हैं कि रमज़ान के दौरान रोजेदार रोजा रखते हैं और ऐसे में वह अपनी भूख मिटाने के लिए सहरी या इफ्तारी में काफी ज्यादा ही मसालेदार चीजें खा लेते हैं जैसे कि – मसालेदार चिकन, प्याजी पकौड़े, बिरयानी आदि… और फिर ऐसी ही चीजें खाने से उनके पेट में जलन और एसिडिटी होने की संभावना सबसे अधिक होती है क्योंकि यह समस्या पूरे दिन खाली पेट रहने के बाद एक बार में यह सारी चीजें खाने से बढ़ जाती है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एसिड रिफ्लक्स को गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स रोग (GERD) भी कहा जाता है, जिसे कई लोग बस यह सोचकर टाल देते हैं कि पेट की जलन केवल पेट में ज्यादा एसिड बन जाने से ही होती है, लेकिन कई बार यह पेट में कम एसिड बनने से भी हो सकती है।

अब सवाल यहां यह है कि पेट में जलन की ऐसी समस्याओं को भला कम किया जाए तो कैसे किया जाए… तो इसका सीधा और साफ जवाब है कि आप अपने खान-पान में कुछ चीजों को कंट्रोल करें और कुछ चीजों को खाकर पेट में जल की समस्या को कम करें…

आइए जानते हैं कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे जो रोजेदारों के लिए बहुत फायदेमंद साबित होंगे –

  • इफ्तार या सहरी में आपको मसालेदार और तेल वाले हर पकवान को खाने से बचना चाहिए क्योंकि ऐसी चीजें खाने से शरीर में पित्त का निर्माण होता है जो हमारे फैट को पचाने की शक्ति को काफी नुकसान पहुंचाती है।
  • वहीं, अगर आपको किसी रोजा पार्टी में शामिल होना पड़े और वहां आप चाहकर भी मसालेदार चिकन, बिरयानी या पकौड़े खाने से मना ना कर सकें तो इसके बाद राहत पाने के लिए ईसबगोल (psyllium) जैसे फाइबर पूरक ले सकते हैं। इसे आप खाने के लिए एक गिलास पानी या दूध में डालकर पी सकते हैं। रोजेदारों को ढेर सारा पानी ज़रूर से पीना चाहिए।
  • ज्यादा तीखा और मसालेदार खाना खाने के बाद एक गिलास दूध या लस्सी आपको जरूर से पीना चाहिए। दूध के उत्पादों में कैसियान (casein) नामक एक प्रोटीन होता है जो मसालेदार पदार्थों में कैप्सैसिन (capsaicin) से जुड़कर पेट में उठने वाली जलन को कम कर देती है।
  • पेट की जलन से बहुत परेशान हैं तो आप सेब के सिरके को पानी में घोलकर भी पी सकते हैं। एक गिलास पानी में 2-3 चम्मच सिरका और एक चम्मच शहद से शरबत बनाए और पी लें।
  • आप एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर पीने से भी पेट की जलन को काफी जल्दी कम कर सकने में कामयाब साबित हो सकते हैं।
  • एसिडिटी की परेशानी को कम करने के लिए आपको भोजन करने के कुछ देर बाद ही एक गिलास ठंडा दूध पीना फायदेमंद साबित होगा।
  • बताते चलें कि जब भी पेट या सीने में जलन की शिकायत हो, तो ठंडी दही का सेवन करना लाभदायी होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook8k
Instagram7k