7 घंटे से कम सोना आपके दिल के लिए है खतरनाक!

इस भागती ज़िंदगी में सभी पैसे को लेकर टेंशन में रहते हैं, जिसको लेकर लोग अपने नींद और चैन खो देते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि एक हेल्दी जीवन के लिए नींद का पूरा होना कितना महत्वपूर्ण होता है।    

एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि जो लोग हर रात 7 घंटे से कम सोते हैं, वह अपने दिल को बीमार करने का खतरा मोल ले रहे हैं। क्यों चौंक गए ना… जी हां, वह व्यक्ति जो हर रात सात घंटे से कम सोते हैं, वह अपने ही हाथों दिल को बीमार कर रहे हैं। रिसर्चर्स की मानें तो जो लोग 7 घंटे से कम नींद लेते हैं, उनमें दिल की बीमारी (सीवीडी) और कोरोनरी हृदय रोग विकसित होने का खतरा काफी ज्यादा बढ़ जाता है।

मैगजीन एक्सपेरिमेंटल फिजियोलॉजी में प्रकाशित निष्कर्ष के अनुसार –  वह लोग जो रोज़ाना रात में 7 घंटे से कम सोते हैं, उनके शरीर के तीन नियामकों या माइक्रोआरएनए का रक्त स्तर निम्न हो जाता है।

बता दें कि माइक्रोआरएनए जीन अभिव्यक्ति को प्रभावित करते हैं और संवहनी के स्वास्थ्य को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वहीं, अमेरिका में कोलोराडो विश्वविद्यालय के प्रोफेसर क्रिस्टोफर डेसूजा का कहना है कि – “यह शोध एक नए संभावित तंत्र की ओर इशारा करता है, जिसके अनुसार नींद दिल के स्वास्थ्य और समग्र शरीर क्रिया विज्ञान को प्रभावित करती है।”

यही नहीं, शोध में 44 से 62 आयु समूह के अलग-अलग लोगों (महिलाएं व पुरुष दोनों) का शोधकर्ताओं ने नमूना लिया, जिसमें नींद संबंधी उनकी आदतों के बारे में उनसे एक फॉर्म भरवाया गया। इस सर्वे में आधे प्रतिभागी रात में सात से 8.5 घंटे सोते थे, बाकी आधे लोग हर रात पांच से 6.8 घंटे ही सोते थे।

बताते चलें कि सर्वे में यह पाया गया कि अपर्याप्त नींद लेने वाले लोगों में एमआईआर-125ए, एमआईआर-126, और एमआईआर-14ए की मात्रा पर्याप्त नींद लेने वाले लोगों की तुलना में 40 से 60 प्रतिशत कम थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook8k
Instagram7k